KINDLY REGISTER YOURSELF

COPPER BANGLE

Filters
Total Results - 9

Copper bangle:

Copper, is rich in a variety of therapeutic properties. Copper has anti-bacterial and anti-microbial properties which helps the body to fight against all diseases. Modern science also believes that if copper touches the body, many diseases can be overcome.

This is the reason why people wear copper bangles. Let us know the benefits of wearing copper bangle.

1.      Wearing a copper bangle in the hand keeps the mind calm. Sun and Mars are strengthened by wearing a copper bangle.

2.      Copper works to reduce other toxins present in the body. Copper triggers a reaction of enzymes that help the body make hemoglobin.

3.      Copper has anti-oxidant properties which prevents the increase of toxicity within the body. Wearing copper slows down the aging process.

4.      Get relief in joint pain - Wearing copper shows a very effective effect on your joint pain. Wearing it can reduce the stiffness or stiffness caused in winter. It is also very effective in osteoarthritis. Just remember the copper is pure.

There are 2 types of copper - Malechha, Nepaliya. In which – Malechha is impure form of copper, and Nepaliya – is pure form of copper. Bangles should be made from nepaliya copper.

The copper bangles at Chakradhari are made up with nepaliya copper and also they are handmade.

तांबे के कड़े:

तांबा, कई तरह के चिकित्सीय गुणों से भरपूर होता है। तांबे में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं जो शरीर को सभी बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। आधुनिक विज्ञान भी मानता है कि अगर तांबा शरीर को छू ले तो कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है।

यही कारण है कि लोग तांबे के कड़े पहनते हैं। आइए जानते हैं तांबे के कड़े पहनने के फायदे।

१.      तांबे के कड़े को हाथ में धारण करने से मन शांत रहता है। तांबे के कड़े धारण करने से सूर्य और मंगल बलवान होते हैं।

२.      तांबा शरीर में मौजूद अन्य टॉक्सिन्स को कम करने का काम करता है। तांबा एंजाइम की प्रतिक्रिया को ट्रिगर करता है जो शरीर को हीमोग्लोबिन बनाने में मदद करता है।

३.      तांबे में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर के भीतर विषाक्तता को बढ़ने से रोकता है। तांबा पहनने से उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है।

४.     जोड़ों के दर्द में पाएं आराम- तांबे को पहनने से आपके जोड़ों के दर्द पर काफी असर पड़ता है. इसे पहनने से सर्दियों में होने वाली जकड़न कम हो सकती है। यह ऑस्टियोआर्थराइटिस में भी बहुत कारगर है। बस याद रखें कि तांबा शुद्ध होता है।

तांबे के 2 प्रकार होते हैं - मलेच्छ, नेपालिया। जिसमें - मलेच्छ तांबे का अशुद्ध रूप है, और नेपालिया- तांबे का शुद्ध रूप है। नेपालिया तांबे के कड़े पेहेनने चाहिए।

यहाँ चक्रधारी में तांबे के कड़े, नेपालिया तांबे से बनाये जाते हैं और साथ ही वे हस्तनिर्मित भी होते हैं।

×

Your Shopping Bag


Your shopping cart is empty.