KINDLY REGISTER YOURSELF
  • NATURAL 14 FACE RUDRAKSHA
CHAKRADHARI

NATURAL 14 FACE RUDRAKSHA

SKU: 14R
US $ 320.00
(Inclusive of all taxes)
NOTE: IF YOU ARE ORDERING MULTIPLE RUDRAKSHA AND WANT PUJA FOR ALL WITH SAME NAME THAN SELECT ANY ONE ADD-ON OF PUJA AMONGS ALL (नोट: यदि आप एक से अधिक रुद्राक्ष का आर्डर दे रहे हैं और सभी के लिए एक ही नाम से पूजा करना चाहते हैं तो सभी में से किसी एक के पूजा विकल्प को चुने) ; 100% natural Nepali rudraksha ; It is designed by nature ; Non- heated, non- treated ; Contain high energy ; Comes in yellow or red thread
Made In India
More Information
- +
Availability:

Description

14 FACING RUDRAKSHA:

14 Mukhi Rudraksha has 14 chambers. This Rudraksha activates the ajna Chakra located between the two Eyebrows thereby giving the wearer an ability to visualize the future so that they are able to make correct decisions. The wearer is protected from all kinds of Negativity, Negative Energies and Enemies. Not only ones present becomes better but their future also becomes brighter. This Rudraksha start giving its results very quickly. It helps in strengthening the muscles and bones in the body. It helps in curing chronic diseases like arthritis, obesity etc. It also in giving relief from stress and depression. Ruling deity is HANUMAN and ruling planet is SATURN.

Additional points one should know whoever is wearing this rudraksha:

1.       It can be worn in gold, silver, and copper or in thread (thread only of red colour).

2.       It can be worn around neck as well as in hands.

3.       Avoid using chemicals, as they can harm the rudraksha and will show less results due to the disturbance in their energy.

4.       Do check whether the rudraksha is real or fake before using it or before accepting it on your body.

5.       Keep wearing it all the time it doesn’t harm anyone in anyway. 

१४ मुखी रुद्राक्ष:

१४ मुखी रुद्राक्ष में १४ कक्ष होते हैं। यह रुद्राक्ष दो भौंहों के बीच स्थित आज्ञा चक्र को सक्रिय करता है जिससे पहनने वाले को भविष्य की कल्पना करने की क्षमता मिलती है ताकि वे सही निर्णय लेने में सक्षम हो सकें। पहनने वाला सभी प्रकार की नकारात्मकतानकारात्मक ऊर्जाओं और शत्रुओं से सुरक्षित रहता है, न केवल वर्तमान बेहतर होता है बल्कि उनका भविष्य भी उज्जवल होता है। यह रुद्राक्ष बहुत जल्दी अपना फल देने लगता है। यह शरीर में मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह गठियामोटापा आदि जैसे पुराने रोगों को ठीक करने में मदद करता है। यह तनाव और अवसाद से राहत दिलाने में भी मदद करता है। अधिपति देवता हनुमान हैं और अधिपति ग्रह शनि है।

पहनने करने वालों के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी:

१.        इसे सोनेचांदी और तांबे या धागे (केवल लाल रंग के धागेमें पहना जा सकता है।

२.       इसे गले के साथ-साथ हाथों में भी पहना जा सकता है।

३.       रसायनों के प्रयोग से बचेंक्योंकि वे रुद्राक्ष को नुकसान पहुंचा सकते हैं और उनकी ऊर्जा में गड़बड़ी कर सकता है। 

४.       रुद्राक्ष को इस्तेमाल करने से पहले या अपने शरीर पर पहनने करने से पहले जांच लें कि वह असली है या नकली।

५.       इसे हर समय पहने रहेंइससे किसी को भी कोई नुकसान नहीं होता है।

Reviews


Login
Don't have an account?
Sign Up
×

Your Shopping Bag


Your shopping cart is empty.