KINDLY REGISTER YOURSELF
  • NATURAL GANESH  RUDRAKSHA
CHAKRADHARI

NATURAL GANESH RUDRAKSHA

SKU: GR
US $ 6.40
(Inclusive of all taxes)
NOTE: IF YOU ARE ORDERING MULTIPLE RUDRAKSHA AND WANT PUJA FOR ALL WITH SAME NAME THAN SELECT ANY ONE ADD-ON OF PUJA AMONGS ALL (नोट: यदि आप एक से अधिक रुद्राक्ष का आर्डर दे रहे हैं और सभी के लिए एक ही नाम से पूजा करना चाहते हैं तो सभी में से किसी एक के पूजा विकल्प को चुने) ; 100% natural Nepali rudraksha ; It is designed by nature ; Non- heated, non- treated ; Contain high energy ; Comes in yellow or red thread
Made In India
More Information
- +
Availability:

Description

GANESH RUDRAKSHA:

Ganesh Rudraksha symbolizes Lord Ganesha. Any Rudraksha if has a projection coming out of its body in the form of a trunk of an elephant, that Rudraksha is called Ganesh Rudraksha. Lord Ganesha is known for success and overcoming obstacles. Hence, wearing Ganesh Rudraksha helps the wearer from overcoming obstacles and becomes successful in life. This Rudraksha also provides wisdom, learning, prudence and power. Ganesh Rudraksha provides the wearer perfection in every sphere of life and is graced of Lord Ganesha Himself. It also reduces the anger power of the wearer of Rudraksha. It also brings good luck to the wearer of Ganesh Rudraksha. People who are suffering from the problem of blood pressure can wear Ganesh Rudraksha. Ruling deity is LORD GANESH and ruling planet is RAHU and BUDH.

Additional points one should know whoever is wearing this rudraksha:

1.       It can be worn in gold, silver, and copper or in thread (thread only of red colour).

2.       It can be worn around neck as well as in hands.

3.       Avoid using chemicals, as they can harm the rudraksha and will show less results due to the disturbance in their energy.

4.       Do check whether the rudraksha is real or fake before using it or before accepting it on your body.

5.       Keep wearing it all the time it doesn’t harm anyone in anyway. 

गणेश रुद्राक्ष:

गणेश रुद्राक्ष भगवान गणेश का प्रतीक है। किसी भी रुद्राक्ष के शरीर से हाथी की सूंड के रूप में यदि कोई प्रक्षेपण निकलता हैतो वह रुद्राक्ष गणेश रुद्राक्ष कहलाता है। भगवान गणेश सफलता और बाधाओं पर काबू पाने के लिए जाने जाते हैं। इसलिए गणेश रुद्राक्ष पहनने करने से व्यक्ति को बाधाओं पर विजय प्राप्त करने में मदद मिलती है और वह जीवन में सफल होता है। यह रुद्राक्ष ज्ञानविद्याविवेक और शक्ति भी प्रदान करता है। गणेश रुद्राक्ष जीवन के हर क्षेत्र में पहनने वाले को पूर्णता प्रदान करता है और स्वयं रुद्राक्ष पर भगवान गणेश की कृपा है। यह रुद्राक्ष पहनने वाले की क्रोध शक्ति को भी कम करता है। यह गणेश रुद्राक्ष पहनने वाले के लिए भी सौभाग्य लाता है। जिन लोगों को ब्लड प्रेशर की समस्या है वे गणेश रुद्राक्ष पहनने कर सकते हैं। शासक देवता भगवान गणेश हैं और शासक ग्रह राहु और बुद्ध हैं।

पहनने करने वालों के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी:

१.        इसे सोनेचांदी और तांबे या धागे (केवल लाल रंग के धागेमें पहना जा सकता है।

२.       इसे गले के साथ-साथ हाथों में भी पहना जा सकता है।

३.       रसायनों के प्रयोग से बचेंक्योंकि वे रुद्राक्ष को नुकसान पहुंचा सकते हैं और उनकी ऊर्जा में गड़बड़ी कर सकता है। 

४.       रुद्राक्ष को इस्तेमाल करने से पहले या अपने शरीर पर पहनने करने से पहले जांच लें कि वह असली है या नकली।

५.       इसे हर समय पहने रहेंइससे किसी को भी कोई नुकसान नहीं होता है।


Reviews


Login
Don't have an account?
Sign Up
×

Your Shopping Bag


Your shopping cart is empty.